Shayri Sad In Hindi[2020]

Sad shayri in hindi [2020]

#1Shayri Sad
यह ज़िन्दगी का रंगमंच है दोस्तों,
यहाँ सबको नाटक करना पड़ता है,
हसने की इच्छा न हो, तब भी हसना पड़ता है,
कोई जब पूछे कैसे हो? मज़े में हूँ कहना पड़ता है..

yah zindagee ka rangamanch hai doston, yahaan sabako naatak karana padata hai, hasane kee ichchha na ho, tab bhee hasana padata hai, koi, jab kese kaise ho? maze mein hoon kahana padata hai ..

#2 Shayri Sad
दुःख अपना हमको बताना नहीं आता, पर तुमको भी तो अंदाज़ा लगाना नहीं आता, एक बार तो गले लगाकर पूछते , कैसे दिल का एक एक दर्द बाहर नहीं आता..

duhkh apana hamako btana nahin aata, par tumako bhee to andaaza lagaana nahin aata, ek baar to gale lagaakar poochhate , kaise dil ka ek ek dard baahar nahin aata ..

Shayri Sad #3
जवानियों में जवानी को धुल करते है,
जो लोग भूल नहीं करते भूल करते है,
अगर अनारकली सबब है बगावत ए इश्क़ का,
तो सलीम हम तेरी शर्ते कबूल करते है ।

javaaniyo mein javaanee ko dhul karate hain, jo log bhool nhi kartre bhool karte hai, agar anaarakalee sabab hai bagaavat e ishq ka, to saleem ham teree sharte kabool karate hain.

Shayri Sad #4
राज़ जो कुछ हो इशारों में बता देना, हाथ जब उससे मिलाओ दबा भी देना, नशा वेसे तो बुरी शे है, मगर “राहत” से सुननी हो तो थोड़ी सी पिला भी देना..

raaz jo kuchh ho ishaaron mein bata dena, haath jab usese milao to daba bhi dena, nasha vese to buri she hai, lekin "raahat" se sunanee ho to thodee see pila bhee dena ..

Shayri Sad #5
वो साथ थी तो मानो जन्नत थी जिंदगी दोस्तों,
अब तो हर सांस जिंदा रहने कि वजह पूछती है।

vo saath thee to maano jannat thee zindagee dosto, ab to har sans jinda rahane ki vajah poochhatee hai.

Shayri Sad #6
देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

dekhi hai baruhee kee aaj hamane intehaan, hamape najar padee to vo mahafil se uth gae.

Shayri Sad #7
आँखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखा कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा पत्थर मुझे कहता है मेरा चाहने वाला मैं मोम हूँ उसने मुझे छू कर नहीं देखा .

aankho mein rha dil me utar kar nahi dekha kashtee ke musaaphir ne samandar nahin dekha patthar mujhase kahata hai mera chaahane vaala main mom hoon usane mujhe chhoo kar nahin dekha

Shayri Sad #8
वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे, दुनिया में हम खुश नसीब होंगे, दूर से जब इतना याद करते है आपको, क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे!

vo vaqt vo lamhe kuchh ajeeb honge, duniya mein ham khush naseeb honge, door se jab bahut yaad karate hain aapko, kya hoga jab aap humare karib honge!

Shayri Sad #9
चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,
ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगा नहीं|

chalo ab jaane bhee do kya karoge daastaan sunakar,
khaamoshee tum samajhoge nahin aur bayaan humse hoga nhi |

Shayri Sad #10
बहुत खूबसूरत वो रातें होती है,
जब तुमसे दिल की बात होती है ||
वैसे कुछ खास लफ्ज़ नहीं होते मेरे पास,
पर जब उनकी याद आती है तोह,
मेरे लिखे लफ्ज़ो में भी मिठास आ जाती है.

bahut khoobasoorat vo raaten hotee hai, jab tumase dil kee baat hotee hai || vaise kuchh khaas lafz nhi hote mere paas, par jab unakee yaad aatee hai toh, mere likhe laphzo mein bhee mithaas aa jaatee hai.

Shayri Sad #11
बदलना नहीं आता हमें मौसम की तरह, हर एक रूप मैं तेरा इंतज़ार करता हूँ ,
ना तुम समझ सको कयामत तक, कसम तुम्हारी तुम्हे इतना प्यार करते है |

badlna nhi aata hume mosmo ki tarhe har ek roop main tera intazaar karata hoon na tum samajh sako kayamt tak, kasam tumhaaree tumhe itana pyaar karatee hai .

Shayri Sad #12
हमसे खेलती रही दुनिया,
ताश के पतों की तरह ,
जो जीता उसने भी फेंका ,
जो हारा उसने भी फेंका .


hamase khelatee duniya, tash ke pato kee tarah jo jeeta usane bhee fanka, jo haara vo bhee fanka.

Shayri Sad #13
हकीकत जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनने से पहले 
यह सोच लेना भूलने से पहले,
बहुत रोई है यह आँखें मुस्कुराने से पहले 
|


hakeekat jaan lo juda hone se pahale, meree sun lo apanee sunne se pahale yah soch lene bhulne se pahale, bahut roee hai yah aankhen muskuraane se pahale.

Shayri Sad #14
चाहने से प्यार नहीं मिलता,
हवा से फूल नहीं खिलता ||
प्यार नाम होता है विश्वास का,
बिना विश्वास सच्चा प्यार नहीं मिलता ||


chaahane se pyaar nahin milata, hava se phool khilata nahin hai || pyaar naam hota hai vishvaas ka, bina vishvaas sachcha pyaar nahin milata ||

Shayri Sad #15
कुछ पल की खुशी आपके साथ में थी,
ऐसी कोई लकीर हमारे हाथ में होती ||
दूर रहकर भी आपको याद करते है हम,
शायद कोई बहुत प्यारी सी बात हमारी मुलाकात में थी ||


kuchh pal kee khushee aapake saath mein thee, aise koee lakeer hamaare haath mein hotee, door rahakar bhee aapako yaad karate hain ham, shaayad koee bahut pyaaree see baat hamaaree mulaakaat mein thee ||


Shayri Sad #16
दिल का हाल बताना नहीं आता,
किसी को ऐसे तड़पाना नहीं आता ||
सुनना चाहते हैं एक बार आवाज आपकी,
मगर बात करने का बहाना नहीं आता ||


dil ka haal batana nahi aata,
kisi ko aise tadapaana nahin aata || sunana chaahate hain ek baar aavaaj aapakee, magar baat karane ka bahaana nahin aata ||

Shayri Sad #17
चलो आज फिर थोडा मुस्कुराया जाये, बिना माचिस के कुछ लोगो को जलाया जाये.....!!!

chalo aaj phir thoda muskuraaya jae, bina maachis ke kuchh logo ko jalaaya jae ..... !!!

Shayri Sad #18
एक उम्र वो थी की जादू में भी यकींन था
एक उम्र ये है की हकीकत पर भी शक है।

ek umr vo thi kee jaadoo mein bhee yakeenn tha ek umr ye hai kee hakeekat par bhee shak hai.

Shayri Sad #19
काटे नहीं कटते लम्हे इंतज़ार के,
नजरें बिछाए बैठे हैं रस्ते पे यार के,
दिल ने कहा देखे जो जलवे हुस्न-ए-यार के,
लाया है उन्हें कौन फलक से उतार के।।


kaate nahin katate lamhe intazaar ke, najaren bichhae baithe hain raast pe yaar ke, dil ne kaha dekho jo jalave husn-e-yaar ke, laaya hai unhen kon falak se utaar ke ..


Shayri Sad #20
दीवाने है आपके इस बात से इंकार नहीं, कैसे कहें कि हमें आपसे प्यार नही, कुछ तो कसूर है आपकी अदाओं का अकेले हम ही गुनेहगार नहीं .

deevan hai aapake is baat se inkaar nahi, kaise kahen ki hame aapse pyaarm nahi, kuchh to kasoor hai aapakee adaaon ka akele ham hee gunehagaar nahin ।।




Shayri Sad In Hindi[2020] Shayri Sad In Hindi[2020] Reviewed by Fact Hacks on January 04, 2020 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.